skip to content

देश के पॉलिटिकल मैप पर कैसे चढ़ा भगवा रंग, साल 2014 से बदल गई राजनीति की बयार

2023 के विधानसभा चुनावों में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की शानदार जीत ने देश की राजनीतिक दृश्य को बदल दिया है। इन तीन राज्यों में कांग्रेस की सरकारों को हराकर भाजपा ने एक बार फिर अपना दबदबा कायम किया है।

इस जीत के कई मायने हैं। सबसे पहले, यह भाजपा की बढ़ती लोकप्रियता को दर्शाता है। 2014 के लोकसभा चुनावों में पहली बार सत्ता में आने के बाद से भाजपा ने लगातार अपनी स्थिति मजबूत की है। 2019 के लोकसभा चुनावों में भी भाजपा ने भारी जीत हासिल की और अपने बहुमत को बढ़ाया।

दूसरा, यह जीत भाजपा के ‘आत्मविश्वास’ को बढ़ाएगी। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस की सरकारें 2018 में गिर गई थीं। इन राज्यों में फिर से भाजपा की जीत से पार्टी को यह संदेश मिलेगा कि वह जनता का विश्वास हासिल कर रही है।

तीसरा, यह जीत 2024 के लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा के लिए एक बड़ी राहत है। इन तीन राज्यों में कांग्रेस की सरकारें थीं, जो भाजपा के लिए एक चुनौती थीं। इन राज्यों में भाजपा की जीत से पार्टी को 2024 के चुनावों में फायदा मिल सकता है।

भाजपा की इस जीत के क्या कारण हैं?

अब सवाल यह उठता है कि भाजपा की इस जीत के क्या कारण हैं? इसके लिए कई कारक जिम्मेदार हैं। इनमें से एक कारक है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता। मोदी की लोकप्रियता देश के कई राज्यों में भाजपा को जीत दिला रही है।

दूसरा कारक है, भाजपा की सरकारों की उपलब्धियां। भाजपा की सरकारों ने कई क्षेत्रों में महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की हैं। इनमें से कुछ प्रमुख उपलब्धियां हैं, आर्थिक विकास, रोजगार सृजन, बुनियादी ढांचे का विकास, और सामाजिक कल्याण कार्यक्रम।

कांग्रेस की कमजोरी

तीसरा कारक है, कांग्रेस की कमजोरी। कांग्रेस इन दिनों एक संकट से गुजर रही है। पार्टी के अंदर आपसी कलह है और उसके पास कोई स्पष्ट नेतृत्व नहीं है। यह कमजोरी भाजपा को फायदा पहुंचा रही है।

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की जीत से देश की राजनीतिक दृश्य बदल गया है। यह जीत भाजपा के लिए एक बड़ी उपलब्धि है और यह पार्टी के लिए 2024 के लोकसभा चुनावों में एक बड़ी राहत है।

भविष्य की संभावनाएं

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की जीत के बाद देश की राजनीति में एक नया समीकरण बन गया है। अब भाजपा के पास 17 राज्यों में सरकार है। यह संख्या भाजपा की बढ़ती लोकप्रियता को दर्शाती है।

भविष्य में भाजपा की इस बढ़ती लोकप्रियता को जारी रहने की संभावना है। अगर भाजपा 2024 के लोकसभा चुनावों में जीतती है, तो यह पार्टी का शासन 80% क्षेत्रफल और 70% आबादी पर हो जाएगा। यह भाजपा के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी।

हालांकि, भाजपा को अपने जीत के बाद भी सावधान रहने की जरूरत है। उसे अपने प्रदर्शन में निरंतरता बनाए रखने की जरूरत है। अगर भाजपा अपने प्रदर्शन में गिरावट आती है, तो उसे नुकसान हो सकता है।

कुल मिलाकर, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की जीत से देश की राजनीति में एक बड़ा बदलाव आया है। यह बदलाव भविष्य में भारतीय राजनीति को प्रभावित कर सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top

BJP Modal