skip to content

कैसे लूटे गए भ्रष्टाचार के धन को लोगों को लौटाया जाए, PM मोदी ले रहे हैं कानूनी सलाह, काले धन को लेकर कांग्रेस पर बोला हमला

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि वह इस बारे में कानूनी सलाह ले रहे हैं कि भ्रष्टाचार के जरिए ‘लूटे’ गए पैसों को गरीबों को कैसे लौटाया जाए? झारखंड के एक मंत्री के सचिव से कथित तौर पर जुड़े घरेलू नौकर से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा ‘नकदी का ढेर’ जब्त किए जाने का जिक्र करते हुए मोदी ने हैरानी जताई कि ऐसे लोग ‘कांग्रेस के प्रथम परिवार’ के करीबी क्यों हैं?

उन्होंने कहा, ‘इन्होंने कार्यकर्ताओं के घर को भ्रष्टाचार का गोदाम बना दिया है. यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी (झारखंड में) एक सांसद के यहां से बड़ी जब्ती की गई थी और यह इतना ज्यादा थी कि मशीनें भी गिनती करते-करते थक गई थीं.’ प्रधानमंत्री यहां वेमागिरी में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) नेता नारा लोकेश और जन सेना प्रमुख पवन कल्याण ने भी इस रैली में हिस्सा लिया.

पीएम मोदी ने कहा, ‘ऐसा क्यों है कि जिन लोगों से नकदी का ढेर बरामद किया गया है, वे कांग्रेस के प्रथम परिवार के करीब हैं? क्या जब्त नकदी कहीं आपूर्ति के लिए थी, क्या कांग्रेस के प्रथम परिवार ने काले धन के गोदाम बनाए हैं? देश कांग्रेस के शहजादे से जानना चाहता है.’

पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि जब भी वह उनका काला धन पकड़ते हैं तो कांग्रेस और ‘इंडिया’ गठबंधन के लोग उन्हें गाली देती है. प्रधानमंत्री ने कहा कि हालांकि, वह गालियों को लेकर कभी चिंतित नहीं हुए, लेकिन उन गरीबों को लेकर जरूर चिंतित हुए ‘जिनके पैसे इन भ्रष्टाचारियों ने लूट लिए हैं’. उन्होंने कहा, ‘मोदी कानूनी सलाह ले रहा है.’

अब तक अकेले ईडी ने 1.25 लाख करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है और अगर अन्य (केंद्रीय एजेंसियों) की ओर से जब्त की गई राशि को शामिल किया जाता है तो यह और अधिक हो सकता है. पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं इस बारे में कानूनी सलाह ले रहा हूं कि कैसे पैसा उन लोगों को लौटाया जा सकता है जिनसे यह लूटा गया है.’

उन्होंने कहा कि 17,000 करोड़ रुपये पहले ही सही हकदारों को लौटाए जा चुके हैं. उन्होंने कहा, ‘किसी गरीब का अधिकार प्रभावित नहीं होगा, यह मोदी की गारंटी है.’ राज्य के वरिष्ठ दिवंगत नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री एनटी रामाराव को याद करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने भगवान राम को घर-घर तक पहुंचाया था. प्रधानमंत्री कहा, ‘हालांकि, तुष्टीकरण के कारण कांग्रेस ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह का बहिष्कार किया और मंदिर का दौरा करने वाले पार्टी नेताओं को संगठन से निकाल रही है.’

कांग्रेस और सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने चुनाव से पहले हार स्वीकार कर ली है, जबकि वाईएसआर कांग्रेस को लोगों ने पूरी तरह से खारिज कर दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि वाईएसआर कांग्रेस के शासन में भ्रष्टाचार, भूमि और शराब माफिया का शासन सर्वोपरि है.

उन्होंने दावा किया, ‘एनडीए (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) न केवल लोकसभा चुनाव में रिकॉर्ड बनाएगा, बल्कि आंध्र प्रदेश में भी सरकार बनाएगा.’ उन्होंने कहा कि राजग उन सभी राज्यों में सत्ता में आएगा जहां विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. आंध्र प्रदेश में 25 लोकसभा सीटों और 175 विधानसभा सीटों के लिए 13 मई को चुनाव होंगे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top

BJP Modal