skip to content
इलेक्टोरल बॉन्ड, 100 दिन का प्लान और 2047 पर नजर… PM मोदी के इंटरव्यू की 10 बड़ी बातें

इलेक्टोरल बॉन्ड, 100 दिन का प्लान और 2047 पर नजर… PM मोदी के इंटरव्यू की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को विपक्ष पर जमकर निशाना साधा, पीएम मोदी ने कहा कि रुद्राक्ष की माला पहनने वाले इंदिरा गांधी की कांग्रेस आखिर सनातन के खिलाफ जहर क्यों उगल रही है. पीएम मोदी ने इलेक्टोरल बॉन्ड पर आरोप लगाने और राम मंदिर का राजनीतिकरण करने के लिए भी विपक्ष को आड़े हाथों लिया. ANI को दिए साक्षात्कार में पीएम मोदी ने ये भी कहा विपक्ष उत्तर-दक्षिण को बांटता है, हम विविधता वाले देश में रहते हैं, मैं किसी राज्य में जाता हूं और लोग वहां की पोशाक पहना देते हैं तो विपक्ष मेरा मजाक उड़ाता है.

पीएम मोदी ने साक्षात्कार में ये भी खुलासा किया कि चुनाव में जाने से पहले ही वह अगली सरकार के 100 दिन का प्लान बना चुके हैं. पीएम ने 2047 के विजन पर भी बात रखी. उन्होंने कहा कि हमें सिर्फ विकास की गति नहीं बढ़ानी है बल्कि स्केल भी बढ़ाना है, ताकि जब देश आजादी के 100 वर्ष मनाए तब तक देश विकास के पथ पर बहुत आगे निकल जाए. आइए जानते हैं पीएम नरेंद्र मोदी के साक्षात्कार की दस बड़ी बातें.

1- राम मंदिर को विपक्ष ने राजनीति का मुद्दा बनाया

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि राम मंदिर उनके लिए पूरी तरह आस्था की बात थी, विपक्ष ने इसे राजनीति का मुद्दा बनाया, वह इसे वोट बैंक की राजनीति का हथियार के तौर पर यूज कर रहे थे, उन्होंने तो ये भी कोशिश की फैसला अभी न आ पाए, लेकिन न्यायिक प्रक्रिया में वह जीत नहीं सकी, राम मंदिर बन गया. अब जब उन्हें प्राण प्रतिष्ठा का निमंत्रण मिला तो उन्होंने ठुकरा दिया. पीएम मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने राम मंदिर बनवाया उन्होंने कांग्रेस के सारे पाप भूलकर उन्हें निमंत्रण दिया और उन्होंने उसे ठुकरा दिया तो सोचिए कि ये वोट बैंक के लिए क्या कर सकते हैं.

2- क्या ईडी को काम नहीं करने दिया जाए?

पीएम मोदी ने विपक्षी दलों के नेताओं को जेल भेजने के आरोप पर कहा कि ईडी की ओर से सिर्फ तीन प्रतिशत राजनीतिक दलों के नेताओं पर कार्रवाई हुई, क्योंकि वह ईडी की रडार में आए, अब कोई आरोप लगाने लगे तो क्या ईडी को काम नहीं करने दिया जाए. पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकार ने सिर्फ 34 लाख रुपये कैश जब्त किया था. पिछले दस साल में हमने 2200 करोड़ रुपये कैश जब्त किया है. मेरा कमिटमेंट है कि हमें भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़नी चाहिए.

3- इलेक्टोरल बॉन्ड पर सवाल उठाने वाले पछताएंगे

पीएम नरेंद्र मोदी ने इलेक्टोरल बॉन्ड पर सवाल उठाने वालों को आड़े हाथों लिया पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग इस पर सवाल उठा रहे वह पछताएंगे. पीएम मोदी ने कहा कि इलेक्टोरल बॉन्ड लाने के पीछे मंशा काले धन को खत्म करना था, यह मुद्दा लंबे समय से चला रहा है, सब पार्टियां इस पर बात भी करती हैं, सबने पहले इसकी तारीफ भी की थी. आज जो मनी ट्रेल के बारे में पता चल रहा है वह इलेक्टोरल बॉन्ड की वजह से ही संभव हुआ है. इस पर सवाल उठाने वाले भी एक दिन पछताएंगे.

4- मोदी की गारंटी पर लोगों को भरोसा है

पीएम नरेंद्र मोदी ने मोदी की गारंटी पर कहा कि मैं जो कहता हूं, उसकी जिम्मेदारी लेता हूं, आजकल कुछ नेता कह रहे हैं कि वह एक झटके में गरीबी खत्म कर देंगे, तो मुझे लगता है कि ये क्या कह रहे हैं. मेरा मानना है कि नेताओं को जिम्मेदारी समझनी चाहिए. मैं जो कहता हूं वही करता हूं, इसीलिए लोगों को मोदी की गारंटी पर भरोसा है, पार्टी के गठन के वक्त से 370 हटाने का वादा किया गया था, सब पक्के मन से लगे हुए थे, मुझे मौका मिला, मैंने हिम्मत दिखाई और कर दिया.

5- सनातन के खिलाफ जहर क्यों उगल रही कांग्रेस?

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कांग्रेस से गांधी जी का नाम जोड़ा गया था. इंदिरा गांधी रुद्राक्ष की माला पहनकर घूमा करती थी, कांग्रेस से ये पूछना चाहिए कि आखिर सनातन के खिलाफ जहर उगलने वालों के खिलाफ तुम क्यों बैठे हो. चलो डीएमके का तो जन्म इस नफरत से हुआ, लेकिन अब लोग ये नफरत स्वीकार नहीं कर रहे हैं. अब तरीके बदल रहे हैं. डीएमके के प्रति जो गुस्सा है वह पॉजिटिव वे में भाजपा की तरफ आ रहा है. प्रश्न डीएमके से नहीं कांग्रेस से पूछना चाहिए कि क्या उन्होंने अपना मूल चरित्र गंवा दिया है.

6- केंद्रीय एजेंसियों के कानून हमने नहीं बनाए

पीएम नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय एजेंसियों पर सरकार के नियंत्रण के सवाल पर कहा कि क्या ED और सीबीआई के कानून हमारी सरकार ने बनाए हैं? पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने तो चुनाव आयोग में भी सुधार किया, पहले तो सिर्फ प्रधानमंत्री एक फाइल पर साइन कर देते थे और चुनाव आयुक्त की नियुक्ति हो जाती थी.

हमने एक पैनल बनाया और इसमें विपक्ष के नेता भी रखते हैं. उनके समय तक ऐसे चुनाव आयुक्त होते थे जो उनकी पार्टी से राज्यसभा सदस्य चुने गए. विपक्ष का काम हार का बहाना ढूंढना है, कभी ईवीएम की बात करेंगे तो कभी चुनाव आयोग की.

7- यूक्रेन-रूस युद्ध में तिरंगा मेरी ताकत बना

पीएम मोदी ने बताया कि कैसे उन्होंने रूस यूक्रेन युद्ध में फंसे भारतीयों को बाहर निकाला. पीएम मोदी ने कहा कि ऐसा नहीं कि ये सिर्फ रूस यूक्रेन युद्ध में किया गया, यमन में फंसे भारतीयों को भी ऐसे ही निकाला गया था. भारतीय फंसे तो हमने सऊदी किंग से बात की कत बमबारी कर रहे हैं तो हम कैसे भारतीयों को निकालें,

इसके बाद हर दिन कुछ देर के लिए बमबारी रुकती थी और हम भारतीयों को निकालते थे, उस दौरान हमने 5 हजार लोगों को निकाला था. रूस और यूक्रेन दोनों के राष्ट्रपतियों से मेरी मित्रता है, यही काम मैंने युद्ध के दौरान किया और भारतीयों लोगों निकाला. उस वक्त अगर कोई विदेशी भी तिरंगा लेकर चल रहा होता था उसे भी रोका नहीं जाता था. तिरंगा ही था जो मेरी सबसे बड़ी ताकत बन गया.

8- चीन-मालदीव पाकिस्तान पर कही ये बात

पीएम नरेंद्र मोदी ने चीन, मालदीव और पाकिस्तान पर भी बात की. पीएम मोदी ने कहा कि हमारी प्राथमिकता नेबर फर्स्ट है, हमारे पड़ोस में कोई ऐसा देश नहीं हमने जिसकी मदद नहीं की हो.

नेपाल में भूकंप आया तो भारत ने सबसे पहले मदद की, श्रीलंका के हालात बिगड़े तो मद करने वालों में भारत सबसे पहला था. श्रीलंका इसे मानता भी है. पाकिस्तान के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि वह अंदरुनी राजनीति का शिकार है,

9- पैसा किसी का भी लगे, पसीना मेरे देश का लगना चाहिए

पीएम नरेंद्र मोदी से जब एलन मस्क के भारत दौरे और टेस्ला कंपनी की स्थापना की संभावनाओं में पूछा गया तो पीएम मोदी ने कहा कि एलन मस्क पीएम मोदी के प्रशंसक हैं वह अपनी जगह हैं, लेकिन वे मूलत: भारत के प्रशंसक हैं. मैं पहली बार 2015 में उनकी फैक्ट्री में गया था, उस वक्त मस्क बाहर थे, लेकिन वह सारे कार्यक्रम निरस्त करके आए थे और खुद सब दिखाया और बताया था.

ये उदाहरण है कि पिछले 10 साल में कैसे भारत में दुनिया भर से निवेश हो रहा है. हमारा ईवी मार्केट भी लगातार बढ़ रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि मैं चाहता हूं कि भारत में निवेश आना चाहिए, पैसा किसी का भी लगे, लेकिन पसीना मेरे देश का होना चाहिए. गूगल, सैमसंग, एपल, एयरक्राफ्ट मैन्युफैक्चरिंंग, सेमीकंडक्टर के क्षेत्र समेत हम आगे बढ़ रहे हैं. हम जो भी कर रहे हैं, अपने देश के युवाओं के लिए कर रहे हैं.

10- पहले ही 100 दिन का प्लान बनाकर बैठा हूं

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं चुनाव में जाने से पहले ही 100 दिन का प्लान बना लेता हूं, 2019 में भी मैंने ऐसा ही किया था और सरकार बनने के बाद 370, तीन तलाक जैसे काम कर दिए थे. इस बार भी अगले 100 दिन का प्लान तैयार है.

पीएम मोदी ने कहा कि मैंने अगले 25 साल के लिए भी एक प्लान तैयार किया है, मैंने देश भर के लोगों से सुझाव मांगे थे कि आने वाले 25 साल में देश कैसा देखना चाहते हैं, 15 से 20 लाख लोगों ने इसके लिए इनपुट दिया था. मैंने हर विभाग में अफसरों की टीम बनाई और प्रजेंटेशन देखे, खुद सुझाव भी दिए, हालांकि मैं इस बारे में अभी कुछ इसलिए नहीं बता सकता क्योंकि आचार संहिता लगी है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top

BJP Modal