Placeholder canvas

UP की लोकसभा सीटों के सर्वे में NDA की जीत पक्की, हार की कगार पर I.N.D.I.A.? जानिए पूरा हाल

आगामी लोकसभा चुनावों से पहले उत्तर प्रदेश की लोकसभा सीटों के लिए एक सर्वेक्षण किया गया। इस सर्वेक्षण के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) को 72 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं, विपक्षी दलों के गठबंधन I.N.D.I.A. को सिर्फ 8 सीटें मिलने का अनुमान है।

निष्कर्ष विवरण
NDA की जीत की संभावना सर्वेक्षण के मुताबिक, NDA को उत्तर प्रदेश की 72 सीटें मिलने का अनुमान है। यह संख्या 2019 के लोकसभा चुनावों में NDA की जीत की संख्या (64 सीटें) से 8 सीटें अधिक है।
I.N.D.I.A. की हार की संभावना सर्वेक्षण के मुताबिक, I.N.D.I.A. को सिर्फ 8 सीटें मिलने का अनुमान है। यह संख्या 2019 के लोकसभा चुनावों में I.N.D.I.A. की जीत की संख्या (5 सीटें) से 3 सीटें कम है।
भाजपा की बढ़त सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा को उत्तर प्रदेश की 50% से अधिक सीटों पर बढ़त मिल रही है। इनमें से 15 सीटों पर भाजपा को 20% से अधिक बढ़त मिल रही है।
भाजपा की जातीय समूहों में लोकप्रियता सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा को उत्तर प्रदेश के सभी प्रमुख जातीय समूहों से अच्छी-खासी वोट मिल रही है। भाजपा को ब्राह्मणों, क्षत्रियों, वैश्यों, मुस्लिमों और दलितों से भी अच्छी-खासी वोट मिल रही है।
योगी आदित्यनाथ की छवि सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की छवि उत्तर प्रदेश में काफी मजबूत है। सर्वेक्षण में शामिल 80% लोगों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ एक अच्छे मुख्यमंत्री हैं। वहीं, सिर्फ 10% लोगों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ एक अच्छे मुख्यमंत्री नहीं हैं।

सर्वेक्षण का आयोजन इंडिया टुडे-सी वोटर ने किया। सर्वेक्षण में उत्तर प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर 13,115 लोगों से बातचीत की गई। सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा को 42.8% वोट मिलने का अनुमान है। वहीं, I.N.D.I.A. को 27.4% वोट मिलने का अनुमान है।

सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा को उत्तर प्रदेश की 50% से अधिक सीटों पर बढ़त मिल रही है। इनमें से 15 सीटों पर भाजपा को 20% से अधिक बढ़त मिल रही है। वहीं, I.N.D.I.A. को सिर्फ 10 सीटों पर 20% से अधिक बढ़त मिल रही है।

सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा को उत्तर प्रदेश के सभी प्रमुख जातीय समूहों से अच्छी-खासी वोट मिल रही है। भाजपा को ब्राह्मणों, क्षत्रियों, वैश्यों, मुस्लिमों और दलितों से भी अच्छी-खासी वोट मिल रही है। वहीं, I.N.D.I.A. को इनमें से किसी भी जातीय समूह से 20% से अधिक वोट नहीं मिल रही है।

सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की छवि उत्तर प्रदेश में काफी मजबूत है। सर्वेक्षण में शामिल 80% लोगों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ एक अच्छे मुख्यमंत्री हैं। वहीं, सिर्फ 10% लोगों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ एक अच्छे मुख्यमंत्री नहीं हैं।

कुल मिलाकर, यह सर्वेक्षण भाजपा के लिए काफी सकारात्मक संकेत है। इस सर्वेक्षण के मुताबिक, भाजपा 2024 के लोकसभा चुनावों में उत्तर प्रदेश में अपना दबदबा बनाए रखने में कामयाब हो सकती है।

हालांकि, यह ध्यान रखना जरूरी है कि यह सिर्फ एक सर्वेक्षण है। चुनावों में परिणाम हमेशा सर्वेक्षणों के अनुरूप नहीं होते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top

BJP Modal