Placeholder canvas

30 दिसंबर को अयोध्‍या में रहेंगे पीएम मोदी, रामनगरी को मिलेगा 15000 करोड़ की परियोजनाओं का उपहार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के अयोध्या का दौरा करेंगे. इस दौरे पर वह अयोध्या में 15,700 करोड़ रुपये की कई परियोजनाओं का उद्घाटन और राष्ट्र को समर्पित करेंगे. इन परियोजनाओं का उद्देश्य अयोध्या को एक आधुनिक और सुंदर शहर के रूप में विकसित करना है.

इन परियोजनाओं में शामिल हैं:

  • अयोध्या रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास: पुनर्विकसित अयोध्या रेलवे स्टेशन का पहला चरण 240 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित किया गया है. यह तीन मंजिला आधुनिक रेलवे स्टेशन लिफ्ट, एस्केलेटर, फूड प्लाजा, पूजा की जरूरतों के लिए दुकानें, क्लॉक रूम, चाइल्ड केयर रूम, वेटिंग हॉल जैसी सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस है.
  • मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन: अयोध्या के अत्याधुनिक हवाई अड्डे का पहला चरण 1,450 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित किया गया है. हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन का क्षेत्रफल 6500 वर्गमीटर होगा, जो सालाना लगभग 10 लाख यात्रियों की सेवा करने के लिए तैयार रहेगा. टर्मिनल भवन का अग्रभाग अयोध्या के आगामी श्रीराम मंदिर की मंदिर वास्तुकला को दर्शाता है. टर्मिनल भवन के अंदरूनी हिस्सों को भगवान श्रीराम के जीवन को दर्शाते हुए स्थानीय कला, चित्रों और भित्ति चित्रों से सजाया गया है.
  • दो नई अमृत भारत और छह नई वंदे भारत ट्रेनों को हरी झंडी दिखाना: प्रधानमंत्री देश में सुपरफास्ट यात्री ट्रेनों की नई श्रेणी ‘अमृत भारत एक्सप्रेस’ को हरी झंडी दिखाएंगे. अमृत भारत ट्रेन एक एलएचबी पुश पुल ट्रेन है जिसमें गैर वातानुकूलित कोच हैं. यह रेल यात्रियों के लिए सुंदर और आकर्षक डिजाइन वाली सीटें, बेहतर सामान रैक, उपयुक्त मोबाइल धारक के साथ मोबाइल चार्जिंग पॉइंट, एलईडी लाइट, सीसीटीवी, सार्वजनिक सूचना प्रणाली जैसी बेहतर सुविधाएं प्रदान करता है.
  • क्षेत्र में रेल बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए 2300 करोड़ रुपये की तीन रेल परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करना: इन परियोजनाओं में रूमा चकेरी-चंदेरी तीसरी लाइन परियोजना शामिल है.
  • श्रीराम मंदिर तक पहुंच बढ़ाने के लिए अयोध्या में चार नवविकसित, चौड़ी और सौंदर्यीकृत सड़कों का उद्घाटन: इन सड़कों के नाम क्रमश: रामपथ, भक्तिपथ, धर्मपथ और श्रीराम जन्मभूमि पथ हैं.

इन परियोजनाओं के उद्घाटन से अयोध्या को एक आधुनिक और सुंदर शहर के रूप में विकसित करने में मदद मिलेगी. ये परियोजनाएं अयोध्या के पर्यटन को भी बढ़ावा देंगी.

प्रधानमंत्री की इस यात्रा का उद्देश्य अयोध्या में आधुनिक विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे का विकास करना, संपर्क में सुधार करना और शहर के समृद्ध इतिहास और विरासत के अनुरूप यहां नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराना है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top

BJP Modal